Login to your account

Username *
Password *
Remember Me
NCR

हवा में जहर: दिल्ली-एनसीआर के अस्पतालों में सांस के मरीजों की बढ़ने लगी है तादाद

दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते वायु प्रदूषण के बीच अस्पतालों में सांस के मरीजों की संख्या भी बढ़ने लगी है. दिल्ली-एनसीआर के अधिकांश सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में सांस के मरीजों की संख्या में पिछले तीन-चार दिनों में बेतहाशा तेजी आई है. सांस के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए दिल्ली के कई निजी अस्पतालों ने ओपीडी टाइमिंग बढ़ा दी है. दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने भी दिल्ली के सभी सरकारी अस्पतालों को सांस के मरीजों के लिए एक विशेष एडवायजरी जारी की है.

बुधवार को भी दिल्ली-एनसीआर में एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) लेवल खतरनाक स्तर पर बना रहा. वायु के खतरनाक स्तर को देखते हुए दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में सांस के मरीजों की संख्या में पहले की तुलना में 25 से 30 प्रतिशत तक इजाफा हुआ है.

दिल्ली के लोक नायक जयप्रकाश नारायण (एलएनजेपी) अस्पताल में प्रोफेसर डॉ. नरेश कुमार फ़र्स्टपोस्ट हिंदी से बात करते हुए कहते हैं, ‘देखिए इस मौसम में खासकर सांस के मरीजों को विशेष ख्याल रखना पड़ता है. पिछले कुछ दिनों से ओपीडी में सांस के मरीजों की संख्या में पहले की तुलना में काफी तेजी आई है. सांस के मरीजों को इस मौसम में काफी संभल कर रहना पड़ता है. इस मौसम में सांस के मरीजों का हालत ज्यादा खराब हो जाती है. उन मरीजों के लिए हमलोग या तो दवा का डोज बढ़ाते हैं या फिर अस्पताल में भर्ती कर लेते हैं.'

 

Rate this item
(0 votes)